Current Bank Account Hindi – चालू बैंक अकाउंट क्या हैं - current account kya hai

Current Bank Account जब कभी भी बैंक अकाउंट की बात होती हैं तो 2 अकाउंट की  चर्चा ज्यादा होती हैं पहली Saving Account ( बचत खाता ) इसके बारे में लगभग सभी लोग जानते हैं और इस्तेमाल करते हैं। और दूसरी हैं Current Account ( चालू खाता ) इसके बारे में काफी कम लोग जानते हैं। अगर  Current Account के बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़े। 

Current Bank Account Hindi – चालू खाता किसे कहते हैं – current account kya hai ?

Current Bank Account को हिंदी में चालू खाता कहते हैं। Current Bank Account व्यपार/Business करने वाले के लिए होता हैं या फिर किसी संस्था या फर्म के लिए खुलवाया जाता हैं। चालू Bank Account से लेन-देन करने का कोई लिमिट नही होता हैं। इससे आप जितना बार चाहे जितना पैसा का लेन-देन कर सकते हैं। इस अकाउंट में रखे हुए पैसा पर किसी तरह का कोई भी ब्याज नही मिलता हैं। 

चालू खाता खुलवाते समय बैंक से तय एक निश्चित चालू खाता खाता में जमा करवाना पड़ता हैं। यह राशि 5000 से लेकर कर 25000 तक हो सकता हैं। यह राशि आपके चालू खाता में ही जमा किया जाता हैं। जिसे जरुरत पड़ने पर आप निकाल भी सकते हैं मगर एक निश्चित राशि अपने चालू खाता में रखना होता हैं। यह निश्चित राशि सभी बैंक का अलग-अलग हो सकता हैं।  यह राशि कम से कम 5000 होता हैं। 

इसे भी पढ़े :- Saving Bank Account Kya Hai – बचत खाता क्या है -बचत खाता कितने के प्रकार के होते हैं ?

करंट अकाउंट के फायदे – Current Account ke Fayde – Benefit Current Account 

Current Bank Account Kya Hota Hai- करंट अकाउंट के फायदे - Current Account ke Fayde - Benefit Current Accoun
Current Bank Account Kya Hota Hai- करंट अकाउंट के फायदे – Current Account ke Fayde

करंट अकाउंट ज़्यदातर बिजनेश के लिए खोला जाता हैं इसके अलावा संस्था और फर्म के लिए भी खोलवाया जाता हैं, जैसे की आपने ऊपर पढ़ा हैं। करंट अकाउंट खोलवाने के कई सारे फायदे हैं। उसमे से कुछ फायदे के बारे में हम आपको निचे बताये हैं। 

  1. चालू खाता से आप अपने बिजनेश/व्यपार से सम्बंधित दिन में अनलिमिटेड पैसो का लेन-देन कर सकते हैं, इसके लिए आपको किसी तरह से कोई रुकावट नही रहती हैं। 
  2. चालू खाता वाले को बैंक की ओर से कोई भी सुविधा तुरंत बिना देरी किये उपलब्ध कराया जाता हैं। जिससे Current Account Holder को लेन-देन में किसी प्रकार से परेशानी न हो। 
  3. चालू खाता Holder को एक लिमिट तक बैंक से ओवर ड्राफ्ट की सुविधा मिल सकता हैं। 
  4. चालू खाता में डिमांड ड्राफ्ट से पैसा ट्रांसफर और जमा करना बहुत ही आसान हो जाता हैं। 
  5. चालू खाता Holder देश के सामान बैंक के किसी भी शाखा (Branch) में जा जा कर अपने पैसो का लेन-देन (Transaction) कर सकता हैं। 
  6. चालू खाता Holder को Door Step Banking का सुविधा मिलता हैं।  Door Step Banking का मतलब होता हैं की आप घर बैठे बैंक की सभी सुविधा का लाभ उठा  हैं। जैसे:- जमा( Deposits), निकासी (Withdrawals) इत्यादि सुविधा मिलता हैं। 
  7. चालू खाता वाले को अपना Account से सम्बंधित सभी सुविधा का लाभ उठाने के लिए Online Banking सुविधा दिया जाता हैं। जैसे:- इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, SMS बैंकिंग, टेलीफोनिक बैंकिंग इत्यादि। 

Current Account अर्थात चालू खाता से बिजनेश/व्यपार में तेजी आती हैं, जिससे पुरे देश में बिजनेश/व्यपार तेजी से हो पता हैं, और Current Bank Account के माध्यम से Account Holder अपने लेन-देन को चेक Pay Order, डिमांड ड्राफ्ट, प्रत्यक्ष रूप से भुगतान करने के लिए जारी कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़े :- सेविंग अकाउंट के फायदे – Benefits of Saving Account

करंट अकाउंट के नुकसान – Current Account ke Nuksan Current Bank Account ke Disadvantage

चालू खाता में कई प्रकार का सेवा शुल्क लगता हैं, जो एक तरह से नुकसान होता हैं, कुछ नुकसान के बारे में निचे बताया गया हैं। 

  1. चालू खाता में जमा पैसे पर खाताधारक को किसी प्रकार से कोई ब्याज नही मिलता हैं। 
  2. चालू खाता में अगर निश्चित राशि से कम पैसा रखते हैं तो आपके खाते से Penalty राशि कटती हैं।
  3. चालू खाता में कई प्रकार के Service चार्ज देना पड़ता हैं।  
  4. चालू खाता में अगर आप लेन-देन नही कीजियेगा फिर सभी चार्ज देना पड़ता हैं। 
  5. चालू खाता में आप पैसा कितना भी जमा कर सकते हैं मगर एक निश्चित सिमा के बाद पैसा नही निकाल सकते हैं।  

इसे भी पढ़े :- डीमैट अकाउंट क्या होता हैं -Demat Account Kya Hai – डीमैट अकाउंट खोलने का क्या तरीका हैं।

Type of Current Account – चालू खाता कितने प्रकार के होता हैं – करंट अकाउंट कितने प्रकार के होते हैं ?

बैंक के सुविधा के आधार पर चालू खाता (Current Account) कई प्रकार के होते हैं, भारतीय स्टेट बैंक (State Bank Of India)  के तरफ से 6 प्रकार का बचत खाता खोलने का सुविधा दिया जाता हैं जो निम्नलिखित हैं। 

  1. Regular Current Account
  2.  Gold Current Account
  3. Diamond Current Account
  4. Platinum Current Account
  5. Surbhi Current Account
  6. Power Jyoti Current Account

इसे भी पढ़े :- सेविंग अकाउंट के प्रकार – Type of Saving Account

Current Account ke Liye Document- करंट अकाउंट के लिए डॉक्यूमेंट – Current Bank Account ke Liye Paper 

  1.  आधार कार्ड 
  2.  पैन कार्ड 
  3.  GST 
  4.  चेक ( खाता खोलने के जो पैसा आपको नया खाता में रखना हैं )
  5.  पाटर्नशिप डीड (यदि यदि पाटर्नशिप खाता खोलना हो तब)
  6.  मेमोरेंडम ऑफ एसोसिएशन (MOA) और आर्टिकल्स ऑफ एसोसिएशन (AOA) (कंपनी के लिए )
  7.  कंपनी पार्टनर्स और डायरेक्टर के एड्रेस और आई डी कार्ड 
  8.  एड्रेस प्रूफ फर्म, कम्पनी HUF

अलग-अलग बैंक में करंट अकाउंट खोलने या अन्य अकाउंट खोलने  लिए इसके अलावा कुछ और भी डॉक्यूमेंट माँगा जा सकता हैं। इसलिए आपको जिस भी बैंक में अकाउंट खोलना हो उस बैंक में जा कर एक पूछ लेना अच्छा रहेगा। ऊपर बताये गए डॉक्यूमेंट लगभग सभी बैंक में माँगा जाता हैं। 

Current Account Kaise Khole – करंट अकाउंट कैसे खोलें – बैंक अकाउंट कैसे खोलें – How to Open Current Account

करंट अकाउंट खोलने के लिए ऊपर बताये गए डॉक्यूमेंट होना चाहिए फिर निचे बताये गए Step को अपनाये आपका अकाउंट आसानी से खुल जायेगा। 

  1.  सबसे पहले आपको अपने नैदीकी बैंक शाखा में जाना होगा बैंक में आपको खाता खुलवाना हैं। वहाँ से आपको चालू खाता खोलने ( Current Account Opening Form) का फॉर्म लेना होगा। 
  2.  फॉर्म को English के Capital Letter में भरना हैं। और फॉर्म Current Account का चयन करना हैं।  इसके साथ ही Current Account का Type का चयन करना हैं। जैसे :- प्रोप्राइटरशिप, पाटनर्शिप, फर्म, PVT LTD, Ltd, इत्यादि। 
  3. फॉर्म पर एक फोटो का स्थान होता हैं उस जगह पर आपको पासपोर्ट आकार का फोटो चिपकना हैं। जरुरत के अनुसार जैसे :- प्रोप्राइटरशिप, पाटनर्शिप, फर्म, PVT LTD, Ltd, इत्यादि। Current Account के Type के अनुसार अलग-अलग फोटो लग सकता हैं।
  4. बैंक के बताये गए सभी दास्तवेज (Document) का फोटो कॉपी (Xerox) फॉर्म के साथ संग्लन ( Attachment) करना हैं। इसे साथ आपको Account Opening Cheque भी देना हैं, जो पैसा आपके Current Account में जमा होगा। 
  5. इसके बाद आपको फॉर्म के अंतिम रूप देते हुए फॉर्म को बैंक में जमा (Submit) कर देना हैं। इसके बाद बैंक की ओर से आपके जमा किये गए फॉर्म और सभी दास्तवेज (Document) की जाँच किया जायेगा, सभी सही रहने पर आपका अकाउंट खोल दिया जायेगा। जिसका सूचना आपको SMS, Email या Call करके दे दिया जायेगा। फॉर्म को बैंक में जमा (Submit) करते समय सभी पेपर का Original आपके पास होना चाहिए। 
  6. अगर आपके दास्तवेज (Document) में किसी प्रकार की गलती या कमी होगा  आपका अकाउंट नही खोला जायेगा और आपको आपको SMS, Email या Call करके सूचना दे दिया जायेगा। फिर उस कमी को सुधार करने के उपरान्त खाता खोल दिया जायेगा। 

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

हमेशा अपडेट रहने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें। 

F&Q -हमेशा पूछे जाने वाला कुछ प्रश्न। 

प्रशन :- करंट अकाउंट कौन खुलवा सकता है?

उत्तर :- ऐसे सभी व्यक्ति जो बिजनेश, व्यपार से सम्बंधित कार्य करते हैं। 

प्रशन :-करंट अकाउंट में बैलेंस कितना होना चाहिए?

उत्तर :- करंट अकाउंट में कम से कम 5000/- रहना चाहिए। 

प्रशन :- करंट अकाउंट में कितने पैसे रख सकते हैं?

उत्तर :- करंट अकाउंट में कैश डिपॉजिट की सीमा 50 लाख रुपये रखी गई है। करंट अकाउंट खास तौर पर बिजनेस के उद्देश्य से चलाए जाते हैं। 

प्रशन :- चालू खाता क्यों महत्वपूर्ण है?

उत्तर :- बचत खाता से आप अधिक लेन-देन नही कर सकते हैं, और चालू खाता से लेन-देन करने का कोई लिमिट नही होता हैं इसलिए। 

प्रशन :- करंट अकाउंट के लिए सबसे अच्छा बैंक कौन सा है?

उत्तर :- ICICI, HDFC, AXIS, PNB, BOB करंट अकाउंट के अच्छे बैंक हैं। 

प्रशन :- चालू खाते की लिमिट कितनी होती है?

उत्तर :- चालू खाता में लेन-देन का कोई लिमिट नही होता हैं। आप अपने जरुरत के अनुसार कितना का भी लेन-देन कर सकते हैं। 

प्रशन :- करंट अकाउंट में एटीएम मिलता है क्या?

उत्तर :- हाँ, बिलकुल मिलता हैं। इसके साथ इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, टेलीफोन बैंकिंग की भी सुविधा मिलता हैं। 

प्रशन :- चालू खाता कब और क्यों खोला जाता है?

उत्तर :- चालू खाता व्यपार शरू/करने के लिए किया जाता हैं। 

प्रशन :- एचडीएफसी में चालू खाता खोलने में कितना समय लगता है?

उत्तर :- 2-5 कार्य दिवस। 

प्रशन :- करंट अकाउंट कब खोला जाता है?

उत्तर :- चालू खाता व्यपार शरू/करने के लिए किया जाता हैं। 

प्रशन :- बैंक में कितने पैसे जमा करने पर टैक्स लगता है?

उत्तर :- बैंक में पैसा जमा करने पर कोई टैक्स नही लगता हैं। 

प्रशन :- चालू खाते का दूसरा नाम क्या है?

उत्तर :- चालू खाता को दूसरा नाम Current Account होता हैं। 

”आप सभी पाठको से मेरा गुजारिश हैं की आपलोग को ये जानकारी कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताइये।  और यह जानकारी अपन आस-पड़ोस, मित्र, रिस्तेदार, संबधी के साथ Share करें। आपलोगों की सहयोग की अवसायकता हैं। जिससे मैं आपलोगों के लिए नई-नई जानकारी से अपडेट रख सकू।” धन्यवाद www.HowToInvest.com

इसे भी पढ़े:– RTI Kya Hai | सूचना का अधिकार क्या है | RTI Application Form Pdf | RTI कैसे लगाये सभी जानकारी यहाँ पढ़े ।

इसे भी पढ़े:– सीएससी सेंटर कैसे खोले – CSC Center Kaise Khole – जन सेवा केंद्र कैसे खोले, कॉमन सर्विस सेंटर कैसे खोले।

इसे भी पढ़े:- सभी प्रकार के पीडीफ फॉर्म यहाँ से डाउनलोड करें। Download PDF Forms

इसे भी पढ़े:- Online Fir Kaise Kare | Online Fir Police Complaint App | घर बैठे ऑनलाइन FIR दर्ज कैसे करें |

By Jeetlal

Investment is Better for the Future.

3 thoughts on “Current Bank Account Kya Hota Hai – चालू खाता किसे कहते हैं, Current Account Kaise Khole – करंट अकाउंट कैसे खोलें”

Leave a Reply