Demat Account Kahan Khola Jata Hai

आज के इस आर्टिकल में आप जानेगे की Demat Account Kahan Khola Jata Hai हैं। 

Demat Account Kahan Khola Jata Hai : डीमैट अकाउंट कहां खोला जाता है ?

शेयर बाजार में ट्रेडिंग कर बहुत से लोग पैसा बनाना चाहते हैं, लेकिन शेयर्स खरीदने और बेचने के लिए जिस डीमैट अकाउंट की जरूरत होती है, उसके बारे में उन्हें बहुत कम जानकारी होती है |

डीमैट अकाउंट कहाँ खोला जाता है, ये कैसे काम करता है, इस अकाउंट को खोलने के लिए कौन से जरूरी कागजात चाहिए और डीमैट अकाउंट को खोलने के लिए कितनी फीस देनी पड़ती है , ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब हम आपको इस लेख में देंगे | अगर आप भी डीमैट अकाउंट खोलने की सोच रहे हैं तो ये जानकारी आपके लिए बहुत ही सहायक हो सकती है |

शेयर ट्रेडिंग के लिए डीमैट अकाउंट होना बहुत जरूरी है, क्योंकि इसके बिना ट्रेडिंग नहीं की जा सकती है | जिस तरह से बैंक अकाउंट होता है ठीक उसी तरह से डीमैट अकाउंट होता है | ये भी बैंक अकाउंट की तरह काम करता है |

शेयर बाजार को नियंत्रित करने वाली संस्था SEBI ने साफ निर्देश दिया हैं कि बिना डीमैट अकाउंट के शेयरों को किसी भी अन्य तरीके से खरीदा और बेचा नहीं जा सकता है |

Demat Account Kaise Khole | डीमैट अकाउंट खोलें ?

डीमैट अकाउंट की सबसे अच्छी बात ये होती है ये शून्य अकाउंट बैलेंस के साथ भी खोला जा सकता है | दरअसल इसमें कोई न्यूनतम (मिनिमम) बैलेंस रखने की जरूरत नहीं होती है | शेयर बाजार में निवेश के लिए ग्राहक के पास बैंक अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और डीमैट अकाउंट होना चाहिए | डीमैट अकाउंट में आप शेयर को डिजिटल रूप से अपने पास रख सकते है तो वहीं ट्रेडिंग अकाउंट की मदद से शेयर, म्युचुअल फंड और गोल्ड में आप निवेश करते है |

भारत में डीमैट अकाउंट खोलने का काम दो संस्थाएं करती है | पहली है NSDL (National Securities Depository Limited) और दूसरी है CDSL (Central Securities Depository Limited) | पांच सौ से अधिक एजेंट इसके लिए काम करते है, जिनको आम भाषा में डीपी भी कहा जाता है | इनका काम डीमैट अकाउंट खोलना होता है |

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए सबसे महत्वपूर्ण शर्त होती है कि जो व्यक्ति डीमैट अकाउंट खुलवा रहा हो उसकी उम्र 18 साल से ज्यादा होनी चाहिए | इसके साथ ही उसके पास पैन कार्ड, बैंक खाते की पहचान और निवास प्रमाण पत्र (एड्रेस प्रूफ) होना जरूरी है |

Demat Account kahan Khola Jata Hai – डीमैट अकाउंट कहा खोले

शेयर में ऑनलाइन निवेश करने के लिए सबसे जरूरी डीमैट अकाउंट होता है। आप अपना डीमैट अकाउंट चॉइस जैसे किसी भी ब्रोकर के पास खुलवा सकते हैं |

ब्रोकरेज फर्म से अनुमति लेने के बाद आप उसकी वेबसाइट पर जाकर डीमैट अकाउंट खोलने का फॉर्म सावधानी से भरने के बाद उसकी KYC प्रक्रिया को पूरा करें। KYC के लिए आपको

फोटो, ​​पहचान पत्र (आईडी प्रूफ) , निवास प्रमाण पत्र (एड्रेस प्रूफ) जैसे दस्तावेज (डॉक्यूमेंट) की जरुरत पड़ेगी | जब जब KYC की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तब उसके बाद व्यक्तिगत सत्यापन होगा। इसके लिए ये संभव है कि जिस फर्म से आप डीमैट अकाउंट खुलवा रहे हैं, वो आपको अपने सेवा प्रदाता के दफ्तर बुलवाएं। ये प्रक्रिया पूरी होने के बाद आप ब्रोकरेज फर्म के साथ समझौते की अवधि पर साइन करते है | ये करने के बाद आपका डीमैट अकाउंट खुल जाता है | इसके बाद आपको डीमैट नंबर और एक ग्राहक (क्लाइंट) आईडी दी जाएगी।

उम्मीद है इन सभी जानकारी के साथ आप आसानी से अपना डिमैट अकाउंट खोल पाएंगे।

हमसे जुड़े रहने के लिए निचे दिए गए लिंक से ग्रुप ज्वाइन करें। 

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है, म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कैसे करें और इसके क्या फायदे होता हैं।

इसे भी पढ़े :-  G Kya Hai | 5G in Hindi | 5G Internet Kya Hai | 5G Internet Launch in India

By Jeetlal

Investment is Better for the Future.

Leave a Reply