Demat Account Kya Hota hai Documents Required For Demat Account How to Open Demat Account

डीमैट अकाउंट क्या होता है | Demat Account Kya Hai | Demat Account Kya Hota hai

Demat Account Kya Hota hai :- डीमैट अकाउंट एक तरह से बैंक अकाउंट जैसा ही है। जैसे कोई भी व्यक्ति  बैंक खाता में पैसा रखते हैं, ठीक वैसे ही  डीमैट अकाउंट को शेयर रखने के लिए इस्तेमाल करते हैं। हालाँकि, इस खाते में कोई भी शेयर या स्टॉक को होल्ड या ट्रांसफर कर सकता है। आपके मन एक सवाल होगा Demat Account Kya Hota hai तो यह खाता का एक Digital रूप है। डीमैट अकाउंट Dematerialize अकाउंट का संक्षिप्त रूप है। डीमैटरियलाइजेशन की प्रक्रिया को Digital प्रारूप में भौतिक शेयरों और प्रतिभूतियों को परिवर्तित करने या प्रतिनिधित्व करने की विधि के रूप में समझा जा सकता है। Demat Account की सहायता से, कोई भी व्यक्ति शेयर बाजार में आसानी से खरीद-बिक्री कर सकता हैं। 

अगर दूसरे शब्दों में कहा जाये तो शेयर को Digitally यानि की Electronic रूप में रखने की सुविधा को डीमैट कहते हैं। Demat का पूरा नाम Dematerialize होता है और इसका हिंदी अभौतिकीकरण होता है । शेयर को भौतिक रूप में बदलने की प्रक्रिया को Dematerialize कहते हैं।  

जब भी बैंक अकाउंट में पैसा रखते हैं तो भौतिक रूम में रखते हैं, बैंक में जमा करने के बाद वह डिजिटल रूप में बदल जाता हैं और हमारे बैंक अकाउंट में दिखने लगता हैं। फिर जब हम बैंक से पैसा निकालते हैं तो फिर हमें भौतिक रूप में मिलता हैं। 

मगर जब जब भी कोई भी व्यक्ति अपने डीमैट अकाउंट में कोई भी शेयर रखेगा तो डिजिटल रूप में ही रख सकता हैं और जब भी उसे निकलेगा तो डिजिटल रूप में ही निकाल सकता हैं। यानि की डीमैट अकाउंट में भौतिक रूप से कोई भी लेनदेन नही होता हैं, पूरा का पूरा डिजिटल लेनदेन ही होता हैं। ऐसे Account को Demat Account कहते हैं। 

शेयर बजार में निवेश कैसे करें | How To Start Invest in Stock Market?

How To Start Invest in Stock Market :- अगर आप शेयर बजार में नवेश करने का प्लान कर रहे हैं तो आपके पास डीमैट अकाउंट होना अनिवार्य हैं, बिना डीमैट अकाउंट के आप शेयर बजार में निवेश नही कर सकते है। किसी भी कंपनी का शेयर खरीदने के लिए आपके पास डीमैट अकाउंट होना ही चाहिए। चाहे ओ शेयर NSE Exchange का हो या फिर BSE Exchange का। इस पोस्ट में आपको डीमैट अकाउंट से सम्बंधित लगभग सभी जानकारी मिल जायेगा। 

पुराने ज़माने के शेयर बाजार | Old Share Market

पहले के समय में जब भी कोई शेयर खरीदता था तब खरीदने वाले के पास कंपनी के माध्यम से शेयर से सम्बंधित दास्तावेज पोस्ट ऑफिस के माध्यम से भेजता था। वह दास्तावेज इस बात का साबुत होता था की आपने इस कंपनी में अपना पैसा निवेश कर रखा हैं। जब भी आप अपना शेयर बेचते थे तब कंपनी ये दास्तावेज वापस अपने ऑफिस में जमा करवाता था, और उस समय के शेयर भाव से आपको पैसा दे देता था। इस प्रक्रिया में काफी ज्यादा समय लगता था और समय का बर्बादी होता था इसके साथ ही यह प्रक्रिया काफी जटिल भी था।  इस कारण से ज्यादातर लोग शेयर में निवेश करने से परहेज करते थे। 

अब नये ज़माने का शेयर बाजार | New Share Market

मगर अब Digital जमाना हो गया हैं, ये दुनिया काफी तरक्की कर लिया हैं। सब ज्यादातर का काम Digital हो रहा हैं। अब आप मिनटों में शेयरो का खरीद-बिक्री कर सकते हैं। अगर आप कोई भी शेयर खरीदते हैं तो तुरंत आपके अकाउंट में दिखने लगता हैं और बेचते हैं तो तुरंत आपके अकाउंट से निकल जाता हैं। खरीदते समय तुरंत आपके बैंक अकाउंट से पैसा कट्टा है और बेचते हैं तो तुरंत आपके बैंक आकउंट में जमा हो जाता हैं। 

कुछ समय पहले ये सब करने के लिए कंप्यूटर का जरुरत पड़ता था, मगर अब इस Digital जमाना में अपने Smart Phone (Mobile) से भी बहुत ही आसानी से कर सकते हैं। कुछ ब्रोकर कंपनी तो आपको Tele Phonic सुविधा भी देते हैं। 

How To Open Demat Account | Demat Account Kaise khole | डीमैट अकाउंट कैसे खोले | Demat Account Kya Hota hai

डीमैट अकाउंट खोलने की 2 तरीका हैं 1. Online और 2. Offline

  1. Online Demat Account :-  खोलने के लिए आपको एक ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा , जिस फॉर्म में आपको आवशयक व्यक्तिगत संपर्क से सम्बंधित विवरण भरना होगा। साथ ही आपको आवशयक दास्तवेज़ अपलोड करना होगा और कुछ आवशयक OTP भी अपने मोबाइल और E-mail का देना पर सकता हैं। एक बार E-Kyc सत्यापन प्रक्रिया पूरा होने के बाद आपका  डीमैट अकाउंट खुल जायेगा। उसके बाद आप किसी भी शेयर का खरीद बिक्री कर सकते हैं।
  2.  Offline Demat Account :- डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आप आप चाहे तो ऑफलाइन प्रक्रिया भी कर सकते हैं इसके लिए सबसे पहले आपको कोई भी एक Broker का चयन करना होगा। और चुने गए Broker के ऑफिस से फॉर्म लेकर उसे भरना होगा फिर जरुरी दास्तावेज संग्लन करना होगा। उसके बाद फिर आपको उसी ऑफिस में जमा करना होगा। निचे आपको कुछ ब्रोकर का लिस्ट मिल जायेगा। ऑफलाइन डीमैट अकाउंट खोलने करीब 5 दिन से 15 दिन तक का समय लग सकता हैं। 

Documents Required For Demat Account

1. पैन कार्ड | Pan Card ( ये जरुरी है, पैन कार्ड के बिना डीमैट अकाउंट नही खुलता हैं)

2. बैंक पास बुक | Bank Pass Book 

3. बैंक चेक बुक | Bank Cheque Book 

Address Proof | पते का सबूत इनमे से कोई एक 

1.पासपोर्ट | Passport

2.आधार कार्ड | Aadhar Card

3.मतदाता पहचान पत्र | Voter id Card

4.ड्राइविंग लाइसेंस | Driving Licence 

5.बिजली बिल/ गैस बिल/ टेली बिल | Electric Bill/Gas Bill/ Tele Phone Bill

6.बैंक स्टेटमेंट | Bank Account Statement अंतिम 3 महीने का 

Demat Account Opening Broker | डीमैट अकाउंट की सुविधा देने वाले कुछ प्रमुख ब्रोकर| Demat Account Kya Hota hai

  1.  Alice Blue Demat Account
  2. Smc Global Securities Ltd. Demat Account
  3. Zerodha Account Demat Account
  4. Angel Broking Demat Account
  5. Sharekhan Demat Account
  6. Motilal Oswal Demat Account
  7. HDFC Securities Demat Account
  8. Kotak Securities Demat Account
  9. ICICI Direct Demat Account
  10. IIFL Demat Account
  11. Religare Demat Account
  12. Axis Direct Demat Account
  13.  5Paisa Demat Account
  14. Upstox Demat Account
  15. SAS Online Demat Account

सभी Broker का अलग-अलग Brokerage होता हैं, जिसका भी Brokerage आप देखन चाहते उस Broker के ऑफिसियल वेबसाइट पर जा कर देख सकते हैं, या अपने पास के ऑफिस में जा कर बात कर सकते हैं। 

हमेशा अपडेट के लिए  ग्रुप ज्वाइन करें। 
आपको आज का  जानकारी कैसे लगा हमें कमेंट करके बताइये और अपने दोस्तों, रिस्तेदारो  साथ शेयर कीजिये। ”धन्यवाद www.HowToInvestmf.com

इसे भी पढ़े :- निवेश किसे कहते हैं | निवेश के प्रकार | what is investment | Investment Types meaning of investment in hindi 2022

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

By Jeetlal

Investment is Better for the Future.

16 thoughts on “Demat Account Kya Hai | Demat Account Kya Hota hai | Documents Required For Demat Account | How to Open Demat Account 1”
  1. […] निवेश करने या शेयर खरीद-बिक्री के लिए डीमैट अकाउंट (Demat Account) होना जरुरी हैं, बिना Demat Account के शेयर […]

Leave a Reply