Saving Bank Account Hindi - सेविंग अकाउंट क्या है-Type of Saving Account-सेविंग अकाउंट के प्रकार

Saving Bank Account Hindi – सेविंग बैंक अकाउंट क्या हैं ?

Saving Bank Account को हिंदी में बचत खाता कहते हैं। जैसे की आपको नाम से ही लग रहा होगा की Saving मतलब बचत, बचत करने के लिए Bank Account खुलवाया जाता हैं। जो भी पैसा हमलोग कमाते हैं और जरुरत के खर्च करने के बाद जो पैसा बचता है उसे बचत खाता में जमा करना चाहिए। बचत खाता खुलवाते समय बैंक से तय एक निश्चित राशि बचत खाता में जमा करवाना पड़ता हैं। यह राशि 0, 100 से लेकर कर 5000 तक हो सकता हैं। यह राशि आपके बचत खाता में ही जमा किया जाता हैं। जिसे जरुरत पड़ने पर आप निकाल भी सकते हैं। 

इसे भी पढ़े :- Bank Account Kya Hai Hindi – बैंक खाता क्या है | Bank Account Benefits – बैंक आकउंट के फायदे | Types of Bank Account – बैंक अकाउंट के प्रकार इत्यादि जाने।

Saving Account में कैश लेन-देन कम होता हैं, इसमें बचे हुए पैसे रखा जाता हैं, और अत्यंत जरुरत पड़ने पर ही निकाला जाता हैं। 

Saving Account में जमा किये गए पैसा पर आपको ब्याज ( Interest ) भी मिलता हैं, जो की चालू खाता ( Current Account ) में नही मिलता हैं। 

Saving Account में एक दिन में बैंक से तय किये गए निश्चित संख्या में ही लेन-देन कर सकते हैं, अगर आप तय सिमा से अधिक लेन-देन करेंगे तो आपको अतिरिक्त शुल्क देना पड़ेगा।  कुछ बैंको में एक दिन में 5 लेन-देन फ्री हैं। और एक महीना में 50 लेन-देन कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़े :- Current Bank Account Kya Hota Hai – चालू खाता किसे कहते हैं, Current Account Kaise Khole – करंट अकाउंट कैसे खोलें

सेविंग अकाउंट के फायदे – Benefits of Saving Account

Saving Account में बैंक के द्वारा जाने वाली सेवाये निम्नलिखित हैं।

पासबुक-Passbook, एटीएम कार्ड- ATM Card, चेक बुक- Cheque Book, इंटरनेट बैंकिंग- Internet Banking, मोबाइल बैंकिंग – Mobile Banking, एस.एम.एस बैंकिंग – SMS Banking इत्यादि की सुविधा दी जाती हैं। जिससे आप घर बैठे बैंकिग सुविधा का आनंद ले सकते हैं। 

इसे भी पढ़े :- RTGS Meaning, RTGS Full Form In Banking, RTGS Form Pdf Download | आर.टी.जी.एस से सम्बंधित सभी जानकारी पढ़े

Saving Bank Account Interest – Savings Account Interest – बचत खाता ब्याज दर

Saving Bank Account में अगर आप पैसा रखते हैं तो बैंक के तरफ से अपने ग्राहक को रखे हुए पैसे का ब्याज ( Interest ) दिया जाता हैं। बचत खाता ब्याज दर सभी बैंक का अलग-अलग होता हैं। न्यूनतम 2.70% से लेकर 5.25% तक ब्याज राशि देती हैं। यह ब्याज राशि आपके Saving Bank Account में Credit कर दिया जाता हैं। यह तिमाही/छमाही/वार्षिक हो सकता हैं, बैंक के नियम के अनुसार।

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

बचत खाता खोलने की पात्रता – Open Saving Account Eligibility – Documents Needed To Open A Bank Account

किसी भी बैंक में बचत खाता खोलवाने के लिए कई जरुरत पेपर को पूरा करना पड़ता हैं। आम तौरपर भारत में किसी भी बैंक में बचत खाता खुलवाने के लिए निचे बातये गये शर्तो को पूरा करना पड़ता हैं। 

  1. नागरिकता का प्रमाण ( आप किस देश का निवासी हैं )
  2. निवास का प्रमाण ( आप कहाँ रहते हैं )
  3. उम्र का प्रमाण  ( आपका जन्म तिथि क्या हैं या आपका उम्र क्या हैं )

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

बचत खाता खुलवाने में लगने वाले दास्तावेज – Bank Account Opening Documents – Documents Needed To Open A Bank Account

किसी भी बैंक में बचत खाता खुलवाने के लिए आपको निन्मलिखित दास्तावेज ( Document ) होना अनिवार्य हैं। 

नागरिकता और उम्र का प्रमाण आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट इत्यादि।
निवास प्रमाण पत्र आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, बिजली बिल, राशन कार्ड, आवासीय  इत्यादि।
फोटो  2 से 5 पासपोर्ट साइज फोटो 

इसे भी पढ़े :- NEFT Full Form in Hindi | NEFT Kya Hai | NEFT Transfer Time | NEFT Charge | NEFT से सम्बंधित सभी जानकारी पढ़े।

सेविंग अकाउंट के प्रकार – Type of Saving Account

सामान्य रूप से देखा जाये तो Saving Account 6 प्रकार का होता हैं, जो निम्नलिखित हैं। 

  1. जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट – Zero Balance Saving Bank Account
  2.  माइनर सेविंग अकाउंट – Minor Saving Account
  3.  सैलरी सेविंग अकाउंट – Salary Saving Account 
  4.  महिला सेविंग अकाउंट – Women’s Saving Account 
  5.  वरिष्ठ सेविंग अकाउंट – Senior Citizen Saving Account 
  6.  रेगुलर सेविंग अकाउंट – Regular Saving Account 

इसे भी पढ़े :- डिजिटल मार्केटिंग क्या हैं | Digital Marketing Kya Hai | डिजिटल मार्केटिंग करने का क्या-क्या तरीका हैं।

By Jeetlal

Investment is Better for the Future.

8 thoughts on “Saving Bank Account Hindi – सेविंग अकाउंट क्या है-Type of Saving Account-सेविंग अकाउंट के प्रकार”

Leave a Reply