बिमा क्या होता हैं insurance kya hota hai Type Of Insurance Insurance Meaning in Hindi

insurance kya hota hai | बीमा क्या होता हैं | Insurance Meaning in Hindi

insurance Meaning in Hindi :- Insurance को हिंदी में बीमा कहा जाता हैं। आपके मन में सवाल आता होगा insurance kya hota hai तो बिमा का अर्थ अगर सामान्य भाषा में कहा जाये तो “बीमा भविष्य में किसी नुकसान से निपटने का एक शक्तिशाली हथियार हैं”। आने वाले समय में कब क्या होगा इसके बारे में किसी को कुछ मालूम नही रहता हैं।  इसी कारण से लोग बीमा पॉलिसी लेते हैं, ताकि भविष्य में होने वाले संभावित नुकसान की भरपाई की जा सके।

बीमा भी कई प्रकार के होते हैं और सभी बीमा का अलग-अलग विशेषता होता हैं। बिमा करना समझदारी और चालाकी का प्रतिक भी माना जाता है, क्योकि कठिन प्रस्थिति में बीमा ही इंसान को या उनके परिवार को मजबूत बनाये रखता हैं।

insurance kya hota hai बिमा क्या होता हैं Insurance Meaning in Hindi
insurance kya hota hai बिमा क्या होता हैं Insurance Meaning in Hindi

अगर दूसरे भाषा में कहा जाये तो बीमा का मतलब जोखिम से सुरक्षा होता हैं। अगर कोई बीमा कंपनी किसी भी व्यक्ति का बीमा करती हैं तो उस व्यक्ति का होने वाले आर्थिक नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी की ओर से की जायेगी। कितना और किस प्रकार से भरपाई की जायेगी ये बीमा पॉलिसी पर निर्भर करता हैं की किस प्रकार का पॉलिसी लिया गया हैं। 

असल में बीमा कंपनी और बीमित व्यक्ति के बिच एक अनुबंध होता हैं।  इसी कॉन्ट्रेक्ट के तहत बीमा कंपनी और बीमित व्यक्ति से एक निश्चित धनराशि के रूप में Premium लेती हैं। बीमित व्यक्ति को बीमा कंपनी की पॉलिसी की शर्त के अनुसार नुकसान की स्थिति में भरपाई करती हैं।

बीमा के प्रकार | Type Of Insurance Meaning in Hindi| बीमा कितने प्रकार के होता हैं? 

सामान्तः  बीमा दो प्रकार के होता हैं जो  निम्नलिखित हैं : –

1. जीवन बीमा | Life Insurance 2. साधारण बीमा | General Insurance 

1. जीवन बीमा | Life Insurance :- जीवन बीमा (Life Insurance) में किसी इंसान के जिंदगी का बिमा क्या जाता हैं।जीवन बीमा ( Life Insurance) का मतलब यह है कि बीमा पॉलिसी खरीदने वाले व्यक्ति की मृत्यु होने पर उसके आश्रित को बीमा कंपनी की तरफ से मुआवजा दिया जाता हैं। इसके लिए बिमा कंपनी बीमित व्यक्ति से प्रत्येक साल धनराशि के रूप में Premium लेती हैं। 

2. साधारण बीमा | General Insurance :- General Insurance में जीवन बीमा छोड़ कर सभी बीमा आता हैं, जैसे:- वाहन बीमा, स्वास्थ बीमा, फसल बीमा, पशु बीमा, घर का बीमा, दुकान का बीमा, इत्यादि। इसके लिए भी बिमा कंपनी बिमा कराने वाले मालिक से प्रत्येक साल धनराशि के रूप में Premium लेती हैं। अगर किसी प्रकार से किसी बीमित सम्पति का नुकसान होता हैं तो उसका हर्जाना बीमा कंपनी देती है। 

वाहन बीमा | Motor Insurance | car insurance | motor vehicle insurance

इंडिया में सड़क पर चलने वाले सभी वाहन का बीमा करना अनिवार्य हैं। अगर भारत में बिना वाहन बीमा कराये उसे सड़क पर चलाते हैं तो आपको ट्रैफिक पुलिस जुर्माना के रूप में चालान काट सकती हैं। वाहन बीमा पॉलिसी के अनुसार वाहन को किसी प्रकार का नुकसान होता हैं तो बीमा कंपनी उसका भरपाई करती हैं। अगर आपके वाहन से कोई दुर्घटना हो जाये या फिर आपका वाहन चोरी हो जाये तो वाहन बीमा से आपको काफी मददत मिलता हैं। अगर ऐसे समय में आपके वाहन का बीमा नही रहेगा तो काफी महँगा पर सकता हैं।

car insurance :- अगर आपके कोई भी वाहन हैं तो उसका बीमा जरूर करवाये, वाहन बीमा का फायदा सबसे ज्यादा तब होता हैं, जब आपके वाहन  किसी भी व्यक्ति का दुर्घटना होता हैं और वह गंभीर रूप  घायल होता हैं या मौत हो जाता हैं। ऐसे हालत Third Party Insurance के तहत कवर किया जाता हैं। 

वाहन बीमा के प्रकार | Type Of Motor Insurance Meaning in Hindi

वाहन बीमा 2 प्रकार के होता हैं। Two Type of Motor Insurance 

1. Third Party Insurance | तृतीय पक्ष बीमा 

Third Party Insurance को हिंदी में तृतीय पक्ष बीमा कहा जाता हैं। तृतीय पक्ष बीमा को Liability  Cover के नाम से भी जाना जाता हैं। यह बीमा तृतीय पक्ष के लिए होता हैं। अगर कोई भी वाहन मालिक अपने वाहन का Third Party Insurance कराया हैं और उस वाहन से किसी भी व्यक्ति के साथ दुर्घटना होती हैं तो उसे बिमा कंपनी क्षति की भरपाई करती हैं। 

अब आपके मन में एक सवाल आ सकता हैं की तृतीय पक्ष और प्रथम पक्ष कौन होता हैं। यहाँ वाहन और वहाँ चलने वाले प्रथम पक्ष होते हैं, और वाहन के चपेट में आने वाले जिनके साथ दुर्घटना होता है ओ तृतीय पक्ष होते हैं। 

वाहन की चपेट में आने वाले के आर्थिक नुकसान से बचने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने सभी मोटर मालिक को तृतीय पक्ष बीमा करना अनिवार्य कर दिया हैं। यह बीमा तृतीय पक्ष के हुए नुकसान की भरपाई करने से वाहन मालिक को बचाती हैं, और बीमा कंपनी भरपाई करती हैं। 

2.  Comprehensive insurance | व्यापक बीमा | first party insurance

Comprehensive insurance :- इसे हिंदी में व्यापक बीमा कहते हैं, इस बीमा को सम्पूर्ण बीमा पॉलिसी भी कहा जाता हैं। इस बीमा के तहत आपके वाहन से किसी व्यक्ति या किसी दूसरे वाहन या किसी अन्य सम्पति के नुकसान की भरपाई बीमा कंपनी करती हैं, इसके साथ ही आपके वाहन को हुए नुकसान की भरपाई भी बीमा कंपनी करती हैं। यानि की इसमें आपको Third Party Insurance भी मिलता हैं। अगर आप सिर्फ Third Party Insurance लेते हैं तो Comprehensive insurance का लाभ नही मिलेगा। इसके अलावा Comprehensive insurance लेने पर कई प्रकार के Add On Covers (सहायक बीमा पॉलिसिया) भी जुड़वाने की सुविधा मिलती है।

घर का बीमा | Home Insurance Meaning in Hindi

Home Insurance 
Home Insurance

Home Insurance :- अगर आप अपने घर का बीमा किसी भी कंपनी से कराते हैं तो इससे आपके घर की सुरक्षा होती हैं। बीमा पॉलिसी लेने के बाद आपके घर को किसी तरह से नुकशान होता हैं तो बीमा कंपनी उसके नुकशान की भरपाई करती हैं।  आपके घर को किसी भी तरह से नुकशान होता हैं तो इसमें कवर किया जाता हैं। बीमा पॉलिसी में घर को प्राकृतिक आपदा से हुए नुकशान जैसे:- आग, भूकंप, आकाशीय बिजली, बाढ़ इत्यादि से होने वाला नुकशान शामिल हैं। इसके अलावा कृतिम आपदा जैसे:- घर में चोरी होना, लड़ाई- दंगा इत्यादि के वजह से हुए नुकशान भी शामिल रहता हैं। 

स्वास्थ्य बीमा | Health Insurance Meaning in Hindi

स्वास्थ्य बीमा Health Insurance 
स्वास्थ्य बीमा Health Insurance

Health Insurance :- आज के समय में इंसान के ईलाज का खर्च बहुत तेजी से बढ़ता हैं, इसलिए लोग Health Insurance लेना चाहते हैं। अगर आप स्वास्थ बीमा  लेते हैं तो आपको किसी प्रकार का बीमारी होता हैं तो ईलाज का खर्च बीमा कंपनी देती हैं। कितना पैसा और किस-किस बीमारी का कवर Health Insurance में  हैं, ये आपके बीमा पॉलिसी पर निर्भर करता हैं। स्वास्थ बीमा लेते समय सभी जानकारी को अच्छा तरीका से पढ़े-समझे फिर उसके बाद ही पॉलिसी  खरीदे। 

यात्रा बीमा | Travel Insurance Meaning in Hindi 

यात्रा बीमा | Travel Insurance 
यात्रा बीमा | Travel Insurance

Travel Insurance :- यात्रा बीमा सिर्फ यात्रा के समय के होने वाले नुकशान से बचाती हैं। अगर कोई इंसान किसी काम या फिर घुमन के लिए कही जाता हैं तो उसे चोट लगाने या किसी प्रकार से कोई दुर्घटना होने से या फिर यात्रा के दौरान समान चोरी होने पर बीमा कंपनी भरपाई करती हैं। Travel Insurance आपके यात्रा शुरू होने से यात्रा खत्म होने तक ही मान्य रहता हैं। सभी बीमा कंपनी का अलग-अलग शर्त रहता हैं बीमा लेते समय ध्यान से पढ़े और समझे। 

कारोबार उत्तरदावित्व बीमा | Business Liability Insurance 

Business Liability Insurance :- कारोबार उत्तरदावित्व बीमा किसी कंपनी के काम-काज या किसी उत्पाद से ग्राहक को होने वाले नुकसान की भरपाई करने के लिए Business Liability Insurance होता हैं। इस तरह के बीमा में किसी भी स्थिति में कंपनी पर लगने वाला जुर्माना/Fine और क़ानूनी कार्यवाही का पूरा खर्च Business Liability Insurance कंपनी को भरपाई करना पड़ता हैं। 

फसल बीमा | Crop Insurance Meaning in Hindi

फसल बीमा | Crop Insurance 
फसल बीमा | Crop Insurance

Crop Insurance :- फसल बिमा पॉलिसी के तहत फसल को किसी भी तरह से नुकसान होने पर बीमा कंपनी किसान को उसके नुकसान की भरपाई करती हैं। जैसे:- सुखाड़, बाढ़ दाहि, आग से फसल जलना, बीमारी से फसल बर्बाद होने पर बीमा कंपनी भरपाई करती हैं। कृषि लोन लेने वाले सभी किसान को फसल बीमा करना अनिवार्य होता हैं। फसल बिमा प्रत्येक फसल या प्रत्येक साल करना पड़ता हैं। 

हमेशा अपडेट रहने के लिए ग्रुप ज्वाइन करें। 
″ये आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताइये।  हमारे इस वेबसाइट www.HowToInvest.com पर निवेश करे से सम्बंधित जानकारी आता रहेगा।„   

इसे भी पढ़े :- Type of Loan | लोन के प्रकार | Category of Loan | Documents Required for Loan लोन की श्रेणी सभी जानकारी एक आर्टिकल में जाने।

इसे भी पढ़े :- म्यूचुअल फंड क्या है | Mutual Fund Kya Hai | म्यूचुअल फंड परिचय | What is Mutual Fund | Mutual Fund Introduction | SIP Full Form

By Jeetlal

Investment is Better for the Future.

4 thoughts on “बीमा क्या होता हैं | insurance kya hota hai | Type Of Insurance | Insurance Meaning in Hindi”

Leave a Reply